हमारा देश

कोरोना से जंग: गुजरात को मिलेगी रेमडेसिविर की 3 लाख से ज्यादा खुराक, केंद्र का हाईकोर्ट में हलफनामा

रेमडेसिविर इंजेक्शन का इस्तेमाल कोरोना के गंभीर मरीजों के इलाज में किया जाता है.

Gujarat Coronavirus Remdesivir: केंद्र ने कहा कि रेमडेसिविर की मांग को पूरा करने के लिए वह अमेरिका की गिलीड साइंसेज और मिस्र की इवा फार्मा से दवा की 4.5 लाख खुराक आयात करेगी.

अहमदाबाद. केंद्र सरकार कोरोना वायरस से लड़ने के लिए गुजरात को 21 अप्रैल से 9 मई के बीच रेमडेसिविर की 3.07 लाख खुराक आवंटित करेगी. कोविड-19 के हालात पर स्वतः संज्ञान लेते हुए दायर एक जनहित याचिका पर हाईकोर्ट के सवालों के जवाब में केंद्र ने अपने हलफनामे में यह जानकारी दी.

केंद्र ने अपने हलफनामे में कहा कि 21 अप्रैल से 9 मई के बीच सभी सात निर्माता कंपनियों के जरिए वह रेमडेसिविर की 3.07 खुराक की आपूर्ति गुजरात को करेगी. केंद्र सरकार ने 21 अप्रैल को केंद्रीकृत रूप से रेमडेसिविर दवाइयों के आवंटन की घोषणा की थी, जिसके बाद गुजरात सरकार ने पिछले सप्ताह रेमडेसिविर की चार लाख और खुराक की मांग की थी.

इसके साथ ही केंद्र ने कहा कि निकट भविष्य में रेमडेसिविर की मांग को पूरा करने के लिए वह अमेरिका की गिलीड साइंसेज और मिस्र की इवा फार्मा से दवा की 4.5 लाख खुराक आयात करेगी. गुजरात को ऑक्सीजन आपूर्ति पर भी  केंद्र सरकार ने उच्च न्यायालय को जानकारी दी. इसमें कहा गया है कि 26 अप्रैल को गुजरात ने राज्य के लिए आवंटित किए गए 975 मीट्रिक टन ऑक्सीजन में से 904 मीट्रिक टन ऑक्सीजन उठाया था, जबकि केंद्र ने राज्य के लिए 1000 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की जरूरत बताई है. केंद्र सरकार ने कहा कि राज्य की ऑक्सीजन उत्पादन क्षमता 847 मीट्रिक टन है.








Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
the tadka news
Close