उज्जैन तड़का

मावठा-उज्जैन में बारिश की संभावना, मौसम विभाग से जारी किया अर्ल्ट

-उज्जैन में बारिश होने से किसानों को होगी खुशी, बंगाल की खाड़ी में बन रहा है निम्न दबाव का क्षेत्र

उज्जैन। आने वाले 48 घंटों में उज्जैन में बारिश और ओले गिरने की संभावना जताई जा रही है। बुधवार को सुबह से ही आसमान में बादलों ने डेरा डाल रखा है। यहीं कारण है कि सूर्य की रोशनी जमीन पर नहीं पड़ी। आसमान में बादल होने के कारण अचानक तापमान गिर गया। जिसके कारण ठंड भी बढ़ गई है। मौसम में अचानक आए बदलाव का कारण बंगाल की खाड़ी और अरब सागर में बन रहे निम्न दबाव को बताया जा रहा है।

यह भी पढ़े  ऑनलाइन ठगी -थाना प्रभारी के नाम से ग्रामीण को लगाया हजारों का चूना

मौसम में आए अचानक बदलाव के कारण उज्जैन में बारिश की संभावना को बड़ा दिया है। सुबह शहर के कुछ हिस्सों में बुंदाबांदी हुई थी। बंगाल की खाड़ी और अरब सागर में बने निम्न दबाव और पश्चिमी विक्षोभ के कारण मध्य प्रदेश में बादल छाए रहने और बारिश की संभावना बढ़ गई है। मौसम विशेषज्ञ का कहना है कि अगले 48 घंटों के दौरान प्रदेश के कई संभागों में बारिश हो सकती है। इसका असर इंदौर, उज्जैन, होशंगाबाद और ग्वालियर, चंबल संभाग में अधिक दिखाई देगा। यहां तेज आंधी के साथ ओले गिर सकते हैं। भोपाल में बुधवार शाम को बूंदाबांदी और गुरुवार को हल्की बारिश हो सकती है। प्रदेश के करीब 6 संभागों में बारिश की संभावना है।

यह भी पढ़े  अब उठी फतेहाबाद रेलवे स्टेशन का नाम बदलने की मांग

चक्रवात हुआ सक्रिय

मौसम विशेषज्ञ ने बताया कि इस समय चक्रवात दक्षिण-पूर्वी अरब सागर में सक्रिय है। इसके चलते महाराष्ट्र तट तक एक ट्रफ रेखा भी बन रही है। इसके प्रभाव से पूर्व-मध्य अरब सागर में महाराष्ट्र तट के पास एक कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है। दक्षिण थाईलैंड के पास बंगाल की खाड़ी में चक्रवात सक्रिय हो गया है। अगला पश्चिमी विक्षोभ 4 दिसंबर को आने की संभावना है। इसके सक्रिय होने पर सर्दियों में तीन दिनों तक तापमान में वृद्धि नहीं होगी। इसके बाद फिर से ठंड शुरू हो जाएगी। हालांकि अभी थोड़ी ठंड बनी रहेगी। प्रदेश के अन्य संभाग और शहरों के भांती उज्जैन में बारिश हो सकती है।

यह भी पढ़े  उज्जैन जिला अस्पताल में 24 घंटे मिलेगी सीटी स्कैन की सुविधा

इन संभागों में ज्यादा प्रभाव

बंगाल की खाड़ी के साथ अरब सागर में बने निम्न दबाव से इंदौर, उज्जैन, होशंगाबाद, भोपाल, ग्वालियर और चंबल संभाग सबसे ज्यादा प्रभावित होंगे। पश्चिमी विक्षोभ के कारण तेज हवाओं के साथ ओले गिर सकते हैं। इसका असर पूरे राज्य में देखने को मिलेगा। अगले 48 घंटे बादल छाए रहेंगे। कई इलाकों में गरज के साथ छींटे पड़ सकते हैं।

पढ़ते रहे thetadkanews.com देखें खबरे हमारे यूट्यूब चैनल The Tadka News पर, जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड की खबरें, लेटेस्ट टेक्नोलॉजी, सरकारी योजनाएं, सरकारी नौकरी अलर्ट, जुड़िये हमारे फेसबुक Tadka News पेज से…

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please uninstall adblocker from your browser.