हमारा देश

सिंघु बॉर्डर हत्या मामले में एक और सरेंडर, दिल्ली के निहंग नारायण सिंह अमृतसर में किया समर्पण

नई दिल्ली. सिंघु बॉर्डर पर तरनतारन के गांव चीमा के रहने वाले लखबीर सिंह की हत्या के मामले में एक और निहंग ने सरेंडर कर दिया है. इस घटना के 15 घंटे बाद शुक्रवार शाम को निहंग सरबजीत सिंह ने सरेंडर किया था. अब एक और निहंग नारायण सिंह ने सरेंडर कर दिया है. दिल्ली निवासी निहंग नारायण सिंह को अमृतसर के देवीदास पुरा गुरुद्वारे के बाहर से हिरासत में लिया गया है. नारायण सिंह के अमृतसर पहुंचने की खबर मिलते ही पुलिस ने इलाके को घेर लिया था. गुरुद्वारे से बाहर निकलते ही पुलिस ने निहंग को हिरासत में ले लिया.

निहंग नारायण सिंह का कहना है कि लखबीर सिंह ने उनके गुरु का अपमान किया था, इसलिए जो उन्होंने किया ठीक किया. अगर सरबजीत सिंह कसूरवार है तो वह भी कसूरवार हैं. उन्होंने भी इस घटना में सरबजीत सिंह का उतना ही सहयोग किया है. 2014 से गुरुओं का अपमान हो रहा है. गुरु ग्रंथ साहिब की कितनी घटनाएं सामने आईं, लेकिन पुलिस ने कोई सहयोग नहीं दिया. एक भी आरोपी पर कार्रवाई नहीं की गई. इस घटना में आरोपी को सरेआम पकड़ लिया गया और उस समय जो ठीक लगा, निहंग जत्थेबंदियों ने किया है.

निहंग नारायण सिंह समर्पण करने के लिए सुबह ही सिंघु बॉर्डर से निकल चुके थे. निहंग नारायण सिंह का कहना था कि संगत उन्हें अमृतसर में सरेंडर करने के लिए कह रही थी. जिसके बाद उन्होंने अमृतसर आकर सरेंडर करने का फैसला किया.

अरदास के बाद खुद किया सरेंडर
नारायण के वहां होने की खबर लगते ही दोपहर में पुलिस ने गांव को घेर लिया. पुलिस के जमावड़े को देखते हुए नारायण ने स्पष्ट कर दिया कि वह अरदास के बाद खुद ही समर्पण कर देंगे. अरदास के बाद वह गुरुद्वारा से बाहर आए और सरेंडर कर दिया. वहीं SSP ग्रामीण राकेश कौशल का कहना है कि फिलहाल निहंग नारायण सिंह उनकी कस्टडी में हैं. हरियाणा पुलिस के अमृतसर पहुंचते ही उन्हें सौंप दिया जाएगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.


Source link

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please uninstall adblocker from your browser.