हमारा देश

हिमाचल: ड्यूटी के दौरान कोरोना से जान गंवाने वाली 2 हेल्थ वर्कर्स के परिजनों को मिले 50-50 लाख रुपये

whatsaap

शिमला. हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमण से ड्यूटी के दौरान जान गंवाने वाले कोरोना वॉरियर्स को  केंद्र सरकार की ओर से 50-50 लाख रुपए की सहायता राशि जारी की है. जिला शिमला के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मांडल मिड वाइफ़ प्रेमलता और आईजीएमसी शिमला में स्टाफ नर्स पद तैनात द्रोपदा डोगरा को केंद्र सरकार ने आर्थिक सहायता के रुप में 50-50 लाख रुपए जारी किए हैं. सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत यह आर्थिक राशि प्रभावित के परिवार को जारी की है. इससे पहले, जिला शिमला के प्राथमिक स्वास्य केंद्र नालदेहरा में अपनी सेवाएं देने वाली सुषमा की बीते साल सितंबर माह में कोरोना पॉजिटिव होने के बाद मौत हो गई थी. इसके बाद जिला स्वास्थ्य विभाग ने फ्रंटलाइनर कोरोना वॉरियर्स के तहत सरकार से राहत राशि देने की मांग की थी.

क्यों जारी की गई राशि?

केंद्र सरकार ने न्यू इंडिया इंसयोरेन्स कम्पनी के तहत सुषमा के परिवार को 50 लाख रुपये की इंश्योरेंस राशि जारी कर दी गई थी. केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज योजना के तहत कफ्रंटलाइन कोरोना वॉरियर्स के लिए 50 लाख की बीमा राशि का ऐलान किया था. ऐसे में यदि कोई भी कोरोना योद्धा की संक्रमण से मौत हो जाती है तो उसके परिवार वालों को 50 लाख की राशि बीमा के रूप में जारी की जाती है.

जिला शिमला में तीन फ्रंटलाइनर कोरोना वॉरियर्स की हुई है मौत

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ सुरेखा चोपड़ा ने बताया कि जिला शिमला में कोरोना काल में ड्यूटी के दौरान तीन स्वास्थ्य कर्मियों की मौत हुई थी, जिनमें से दो मिड वाइफ़ और एक स्टाफ नर्स के पद पर तैनात थी.इन तीनों कोरोना वॉरियर्स को केंद्र सरकार की ओर से राहत राशि प्रदान की गई है.उन्होंने बताया कि हाल ही में इन तीनों स्वास्थ्य कर्मियों की कोविड वार्ड में ड्यूटी देने के पॉजिटिव आई थी जिसके बाद इन तीनों की उपचार के दौरान मौत हो गई थी.जिसके बाद सरकार द्वारा घोषित कोरोना वॉरियर्स के तौर पर मुआवजा देने की मांग की गई थी जिसके बाद केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत इन्हें मुआवजा प्रदान किया है. बता दें कि केंद्र सरकार ने बीते साल कोरोना काल में मेडिकल स्टाफ,पुलिस और सफाई कर्मचारियों को कोरोना वॉरियर्स घोषित किया था जिसके बाद फ्रंटलाइनर कोरोना वॉरियर्स में अन्य विभागों को भी शामिल किया है जिसके तहत कोरोना काल में ड्यूटी के दौरान मरने वाले लोगों को 50 लाख रुपए का मुआवजा दिया जा रहा है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.


Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
Close