उज्जैन तड़का

कलेक्टर के आदेश को पलीता लगा रहे नगर निगम कर्मचारी- वीडियो वायरल…

पकड़े गए मवेशियों को लेनदेन कर फोरलेन पर छोड़ा

उज्जैन। Sat-24 Oct 2020

कलेक्टर द्वारा धारा 144 लगाकर सड़कों पर आवारा मवेशियों और गाय को छोड़ने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के आदेश जारी किए गए हैं। लेकिन सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो को देखकर आसानी से पता लगाया जा सकता है कि कलेक्टर के आदेश को किस तरह निगम कर्मचारी किस तरह पलीता लगा रहे हैं।

शुक्रवार को कलेक्टर आशीष सिंह द्वारा शहर की सड़कों पर मवेशियों को छोड़ने वाले लोगों के खिलाफ धारा 144 लगाई गई। सड़कों पर मवेशी तथा गाय को छोड़ने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। लेकिन इसके ठीक उलट नगर निगम की गैंग आवारा मवेशियों को पकड़कर उज्जैन इंदौर फोर लेन पर पशु मालिकों को सोप रही है। ऐसा एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में स्पष्ट दिखाई दे रहा है कि पशु मालिक के कहने पर मवेशियों को पकड़ने वाली गैंग के द्वारा किस तरह से पकड़े गए मवेशियों को वाहन से उतार कर पशु मालिक के हवाले किया जा रहा है। हैरत की बात नहीं है क्योंकि अक्सर आवारा मवेशी पकड़ने वाली गैंग पर इस तरह के आरोप पहले भी लग चुके हैं।

वीडियो देखें

इन पर लागू नहीं होते किसी के आदेश

कलेक्टर हो या फिर नगर निगम आयुक्त आवारा मवेशी पकड़ने वाली गैंग पर किसी भी अधिकारी का आदेश लागू नहीं होता है। वीडियो देखकर आसानी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि किस तरह नगर निगम कर्मचारी कलेक्टर आशीष सिंह के आदेश को घोल का पी रहे हैं। नगर निगम कर्मचारी और पशुपालकों के बीच वायरल हो रहा वीडियो इन दिनों चर्चा का विषय है। देखने वाली बात यह है कि वीडियो सामने आने के बाद नगर निगम अधिकारी आवारा मवेशी गैंग पर कार्रवाई कर सकेंगे।

तो क्यों हो रही है यह कार्रवाई

गौरतलब है कि शुक्रवार से नगर निगम और जिला प्रशासन की टीम ने शहर में अवैध रूप से मवेशी पालने वालों के खिलाफ कार्रवाई शुरू की है। इसके तहत पशुओं के बड़ों को तोड़ा जा रहा है। शहर से आवारा मवेशी हटाने के लिए यह प्रयास नाकाफी साबित हो रहा है। जिसका कारण आवारा मवेशी गैंग ही है। गैंग द्वारा पकड़े गए मवेशियों को छोड़ दिए जाने से अभियान की सार्थकता पर प्रश्न चिन्ह लग रहा है।

वृद्धा को किया गंभीर रूप से घायल 

गौरतलब है कि मालीपुरा में रहने वाली 70 वर्षीय वृद्धा पर गुरुवार सुबह आवारा मवेशी ने हमला कर दिया था। इस हमले में वृद्धा गंभीर रूप से घायल हो गई थी। यह पहली मर्तबा नहीं है जब आवारा मवेशी ने किसी पर हमला किया है। इसके पहले भी कई बार इस प्रकार की घटनाएं हो चुकी है। बावजूद इसके अब तक कोई सार्थक कार्रवाई नहीं हो पाई है। वायरल वीडियो से आवारा मवेशियों के प्रति निगम की कार्रवाई को आसानी से जाना जा सकता है।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close