उज्जैन तड़का

कोरोना वायरस खत्म करने के लिए दंडवत यात्रा पर निकले बाबा

भीषण गर्मी में 300 किमी की दंडवत यात्रा कर महाकाल पहुंचे बाबा

भीषण गर्मी में जहां एक ओर सड़क पर पैदल चलना कष्ट कारी हो रहा है। ऐसे में सड़क पर दंडवत यात्रा ने निकले बाबा को देखकर हर कोई दंग है। बाबा की दंडवत यात्रा का उद्देश्य जानकर भी आप हैरान रह जाएगें। बाबा ने कोरोना वायरस की समाप्ती की प्रार्थना को लेकर उक्त यात्रा बुधनी से शुरू की है।

उज्जैन। Sat-01 May 2021

देश में तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के कारण बड़ी संख्या में लोगों की मृत्यु हो रही है। कोरोना को रोकने के लिए अब भगवान से आशा है। ऐसे में एक साधू बाबा ने कोरोना के खात्मे के लिए भगवान महाकाल से विनती करने के लिए 300 किलोमीटर तक दंडवत यात्रा कर भगवान महाकाल से प्रार्थना की।

कोरोना के कारण पूरे देश में हाहाकार मचा हुआ है। इस महामारी को समाप्त करने के लिए पिछले दिनों महाकाल मंदिर में 11 दिवस का महामृत्युंजय अनुष्ठान किया गया। वहीं शमशान में तंत्रिका पूजा के साथ मिर्ची यज्ञ कर कोरोना से निजात पाने की प्रार्थना हुई। ऐसे में अब बुधनी जिले के रहने वाले दंडवत बाबा करीब 300 किलोमीटर की दंडवत यात्रा कर उज्जैन के श्री महाकालेश्वर मंदिर में भगवान महाकाल से कोरोना महामारी से दुनिया को निजात दिलाने की प्रार्थना की है।

Ujjain-गुरुनानक एवं देशमुख अस्पताल पर हो सकती है FIR

साथ चल रहा मंदिर

बुधनी से करीब 300 किमी के सफर पर दंडवत यात्रा करते हुए 6 अप्रेल को निकले दंडवत बाबा शनिवार एक मई को उज्जैन पंहुचे। दंडवत बाबा ने बताया की रोजाना हाथों में नारियल लेकर दंडवत प्रणाम करते हुए रास्ता तय करतो है। वे प्रतिदिन रोजाना करीब 3 किलोमीटर की दंडवत यात्रा करते है। बाबा के साथ ठेले पर मंदिर भी साथ लेकर चल रहे है। बड़ी बात यह है कि दंडवत बाबा भीषण गर्मी में पैदल गर्म सड़क पर दंडवत करते हुए सफर तय कर रहे है।

बहन ने खिड़की से देखा तो फंदे पर लटका हुआ था भाई

शरीर पर हो गए घाव

भीषण गर्मी में दंडवत यात्रा पर निकले बाबा के पेट पर कई जगह बड़े घाव हो गए है। भीषण गर्मी तपती दोपहरी गर्म सड़क होने के बाद भी बाबा ने हार नहीं मानी और अपने सफर पर आगे बढ़ते रहे। बाबा ने कहा कि भगवान महाकाल से प्रार्थना करने आया हूं कि जिस तरह से आपने विष पान किया था। अब कोरोना महामारी का भी विश्व से अंत करो। बाबा महाकाल के दर्शन कर बस यही कामना करने वे बुधनी से उज्जैन पंहुचे है।

Ujjain-700 रुपए के खातिर काट दिया दोस्त का गला

महाकाल से की प्रार्थना

दंडवत बाबा ने बताया की कोरोना कर्फ्यू होने के बाद भी वे यंहा तक पंहुचे। इसमें कोई खास तकलीफ तो नहीं हुई बस कई जगह पुलिकर्मियों ने मास्क लगाने की समझाईश जरूर दी है। उज्जैन पंहुचने के बाद दंडवत बाबा ने भगवान महाकालेश्वर के दर्शन कर कोरोना महामारी के खात्मे के लिए प्रार्थना की। हालांकि प्रशासन के निर्देश पर महाकाल मंदिर आम श्रद्धालुओं के लिए पहले से ही बंद है। लिहाजा दंडवत बाबा ने भी बाहर से ही दर्शन कर भगवान महाकाल तक अपनी प्रार्थना पहुंचाई है।

आईटी सेल ने उठाई जनता की आवाज, माफ हो बिजली बिल

जिले में 12 सेंटरों पर लगाए जाएगें 18 प्लस को वैक्सीन

कांग्रेस प्रवक्ता नूरी खान गिरफ्तार, जमानत पर छोडा

Ujjain- सीएसपी ने भांग बेच रहे पिता-पुत्र को दबोचा

ऐसे होगा कोरोना मुक्त उज्जैन, 400 टीम करेगी सर्वे

देशमुख अस्पताल से हो रही थी रेमडेसिविर की कालाबाजारी

बहन की लाश लेकर थाने पहुंंचा भाई, लगाया हत्या का आरोप

अस्पताल के पंखे से मरीज को लग रहा डर-जानिए कारण

Tags

Related Articles

Back to top button
the tadka news
Close