मप्र तड़का

Corona : MP में फिर लॉकडाउन होगा या नहीं CM करेंगे फैसला, नयी गाइड लाइन जारी होगी

कोरोना फैलने के कारण बाज़ारों के खुलने-बंद होने का समय बदल सकता है.(प्रतीकात्मक तस्वीर)

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) ने ट्वीट किया कि कोरोना (Corona) संक्रमण के आंकड़े एक बार फिर भयावह होते जा रहे हैं. प्रदेश सरकार जनता के स्वास्थ्य और सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए तत्काल आवश्यक सभी कदम उठाए.

भोपाल. पूरे देश की तरह मध्य प्रदेश (MP) में भी कोरोना (Corona) फिर रफ्तार पकड़ रहा है. राजधानी भोपाल और इंदौर में कोरोना के फिर तेज़ी से पैर पसारने के बाद लॉकडाउन की अटकलें लगने लगी हैं. लेकिन इस बारे में आखिरी फैसला सीएम करेंगे. फिलहाल कोरोना से बचाव के लिए नयी गाइड लाइन जारी हो सकती है. कांग्रेस ने इन हालात के लिए बीजेपी सरकार को दोषी ठहराया है. कांग्रेस ने कहा सरकार कोरोना रोकने में पहले दिन से असफल साबित हुई है. अब सरकार लॉकडाउन लगाने पर विचार कर रही है, लेकिन लॉक डाउन से कोई फायदा नहीं है.

मप्र में फिर लॉक डाउन की अटकलों के बीच सीएम शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों से चर्चा की. अधिक संक्रमित शहरों में लॉकडाउन के बारे में चर्चा की गयी. गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि फिलहाल लॉक डाउन नहीं लग रहा लेकिन आखिरी फैसला सीएम के साथ बैठक के बाद किया जाएगा. कोरोना से बचाव के लिए आज नयी गाइड लाइन जारी हो सकती है. इसमें बाजार खोलने-बंद करने का नया समय तय किया जा सकता है.

कांग्रेस ने बताया दोषी
पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने कोरोना संक्रमण फैलने पर कहा भाजपा पहले दिन से कोरोना रोकने में असफल रही. 3 महीने के लॉक डाउन का भी कुछ फायदा नहीं हुआ है. त्यौहारों से पहले सरकार को मैनेज करना था. अब लॉक डाउन किया तो फिर लोगों के रोजगार पर संकट आ जाएगा.कमलनाथ ने किया ट्वीट

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्वीट किया कि कोरोना संक्रमण के आंकड़े एक बार फिर भयावह होते जा रहे हैं. प्रदेश सरकार जनता के स्वास्थ्य और सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए तत्काल आवश्यक सभी कदम उठाए. टेस्टिंग से लेकर अस्पतालों में बेड और इलाज की समुचित व्यवस्था की जाए. कोरोना गाइड लाइन और नियमों के पालन के लिये समुचित आवश्यक निर्णय लिये जाएं.

नगरीय निकाय चुनाव
पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने कहा नगरीय निकाय चुनाव के लिए हमारी पार्टी तैयार है. निष्क्रिय कार्यकर्ताओं में कमलनाथ का नाम सबसे पहले होने के नरोत्तम मिश्रा के बयान पर उन्होंने कहा कि कहीं मिश्रा पर ही कार्रवाई न हो जाए. कांग्रेस में निष्क्रिय कोई नहीं है, कम सक्रिय हो सकते हैं. उन्हें उस हिसाब से काम दिया जाएगा. शर्मा ने शिवराज सरकार पर आरोप लगाया कि वो गौ कैबिनेट की बात करते हैं.लेकिन उन्हीं की सरकार में आगर गौ अभ्यारण में गायों की मौत हो रही है, रजिस्टर्ड गौ शालाओं को तोड़ा जा रहा है.




Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
Close