उज्जैन तड़का

घर को बनाया अस्पताल, कोविड मरीज का चल रहा था इलाज

-तहसीलदार ने की कार्रवाई, 188 के तहत प्रकरण दर्ज, घर को किया सील

स्वास्थ्य विभाग में पदस्थ एएनएम और निजी अस्पताल में काम करने वाले उसके पति ने अपने घर को अस्पताल बना कर उसमें कोविड मरीज का इलाज शुरू कर दिया। शिकायत मिलने पर तहसीलदार ने ऋषिनगर स्थित घर पर पहुंचकर कार्रवाई की। आरोपी के खिलाफ 188 के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है। साथ ही घर को सील कर दिया गया।

उज्जैन। Sun-02 May 2021

उज्जैन में कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों की संख्या कम होने का नाम नहीं ले रही है। प्रशासन लगातार अपने स्तर पर प्रयास कर रहा है। लेकिन उसके बाद भी ऋषिनगर कोरोना का हॉटस्पॉट बना हुआ है। ऐसे में एक बड़ी लापरवाही सामने आई यहां रहने वाले एक व्यक्ति ने अपने घर में अस्पताल बना डाला। रविवार दोपहर को तहसीलदार ने ऋषिनगर के एफ 48 मकान में पंहुचकर कार्यवाही कर आरोपी के खिलाफ 188 में मामला दर्ज कर घर को कोरोना प्रोटोकॉल में सील करवा दिया। बताया गया है कि आरोपी की पत्नी भी स्वास्थ्य विभाग में है। अब इस बात की जानकारी ली जा रही है कि इस लापरवाही में इसकी पत्नी का हाथ तो नहीं था।

बहन ने खिड़की से देखा तो फंदे पर लटका हुआ था भाई

रहवासियों ने की शिकायत

ऋषि नगर पहले से ही संक्रमितों क हॉटस्पॉट बना हुआ है। ऐसे में पिछले एक सप्ताह से ऋषि नगर के एफ 48 मकान निवासी रविंद्र सिंह के घर पर एम्बुलेंस और लगातार ऑक्सीजन सिलेण्डर के आने जाने की शिकायत रहवासियों ने प्रशासन को की थी। क्षेत्र के रहवासी रोबिन चौपडा ने बताया बीते 15 दिनों से ये सिलसिला जारी है। यंहा रहने वाले रविंद्र सिंह निजी अस्पताल में काम करता है। इसकी पत्नी मनीषा ठाकुर एएनएम है। सरकारी कर्मचारी होकर अभी टीकाकरण में काम कर रही है। इनके घर पर कुछ कोरोना संक्रमितों का इलाज किय जा रहा है।

Ujjain-गुरुनानक एवं देशमुख अस्पताल पर हो सकती है FIR

सूचना मिलने के बाद तहसीलदार अभिषेक शर्मा मौके पर रवींद सिंह से जानकरी ले ही रहे थे, कि उनके घर ऑक्सीजन के सिलेण्डर लेकर ऑटो पंहुच गया। तहसीलदार शर्मा ने ऑटो वाले को भी रुकवा लिया। पूछताछ करने पर रविंद्र सिंह ने बताया कि घर में एक ही मरीज है। जो की हमारे रिश्तेदार है, उनके घर पर जगह नहीं थी तो हम अपने घर ले आये। जबकि रहवासी आरोप लगा रहे है कि इन्होने अपने घर में अस्पताल खोल लिया और मरीजों को लाकर इलाज कर रहे है।

Ujjain-700 रुपए के खातिर काट दिया दोस्त का गला

दर्ज किया मामला

कोविड मरीजों को घर पर रखने के कारण आस-पास के रहवासियों ने रविवार को विरोध प्रदर्शन किया। रोबिन चोपड़ा ने बताया कि यहां अलग-अलग मरीज लाकर इलाज कर रहे थे। इसको लेकर हमने शिकायत की थी। इधर तहसीलदार अभिषेक शर्मा ने भी कहा की फिलहाल घर में रविंद्र मिला है। उसने पूछताछ में ग्राम कनवास निवासी प्रेम कुंवर मरीज को घर में होना बताया है।

रविंद्र ने कहा कि जो मरीज घर पर है वह उनका रिश्तेदार है। हालांकि मौके पर रविंद्र की पत्नी मनीषा ठाकुर नहीं मिली जो की स्वास्थ्य विभाग में एएनएम है। फिलहाल रविंद्र ने प्रशासन को बिना बताए कोरोना मरीज को अपने घर पर रखा है, इसलिए पंचनामा बनाकर उसके खिलाफ धारा 188 में मामला दर्ज किया जा रहा है।

आईटी सेल ने उठाई जनता की आवाज, माफ हो बिजली बिल

जिले में 12 सेंटरों पर लगाए जाएगें 18 प्लस को वैक्सीन

कांग्रेस प्रवक्ता नूरी खान गिरफ्तार, जमानत पर छोडा

Ujjain- सीएसपी ने भांग बेच रहे पिता-पुत्र को दबोचा

ऐसे होगा कोरोना मुक्त उज्जैन, 400 टीम करेगी सर्वे

देशमुख अस्पताल से हो रही थी रेमडेसिविर की कालाबाजारी

बहन की लाश लेकर थाने पहुंंचा भाई, लगाया हत्या का आरोप

अस्पताल के पंखे से मरीज को लग रहा डर-जानिए कारण

Tags

Related Articles

Back to top button
the tadka news
Close