उज्जैन तड़का

भाजपा के महेश ने किया होटल का अवैध निर्माण

मय दस्तावेजों के होगी उच्चस्तरीय शिकायत, होगी शांति पैलेस जैसी कार्रवाई

उज्जैन। Thu-19 Nov 2020

भारतीय जनता पार्टी से जुड़े तथा समाज सेवा करने वाले महेश ने उज्जैन इंदौर फोर लेन पर अवैध रूप से एक होटल का निर्माण किया है। उक्त मामले की उच्चस्तरीय शिकायत की जा सकती है। शिकायतकर्ता का आरोप है कि नानाखेड़ा गोयला खुर्द के आवासीय भूखंडों को कागजों में हेराफेरी कर व्यवसायिक बताने का प्रयास किया गया। जल्द ही उक्त तो होटल पर शांति पैलेस जैसी कार्रवाई के संकेत मिल रहे हैं।

उज्जैन इंदौर फोरलेन स्थित महामृत्युंजय द्वार के समीप महादेव के नाम से बनी एक होटल अवैध रूप से बनाए जाने की शिकायत प्रशासन तक पहुंची है। आरोप है कि भाजपा से जुड़े महेश ने इस प्रपंच को रचा है। होटल का निर्माण अवैध रूप से किया गया है। उक्त जमीन भी शासकीय नजूल की बताई जा रही है। संपूर्ण दस्तावेजों के साथ उक्त अवैध निर्माण कि शिकायत की गई है। बताया जा रहा है कि उक्त अवैध निर्माण की योजना आज से कई साल पहले बन चुकी थी। हालांकि भाजपा से जुड़े महेश के लिए अब परेशानी वाले दिन शुरू हो सकते हैं।

10 साल पहले हुई थी कागजों में हेरा फेरी

आरोप है कि ग्राम गोयला खुर्द पटवारी हल्का नंबर 35 की भूमि को इंदौर के जायसवाल परिवार से खरीदना बताया जा रहा है। उक्त सौदा साल 2009-10 में कागजों में हीरा फेरी कर किया गया है। आरोप है कि उक्त जमीन का एक बड़ा हिस्सा शासकीय भूमि न. भू. सी. नजूल अतिशेष की बताई जा रही है। अगर ऐसा है तो जल्द ही उक्त होटल पर कार्रवाई हो सकती है।

जमीन का डायवर्सन भी निरस्त

उल्लेखनीय है कि राजस्व विभाग में समाजसेवी महेश ने गोयला खुर्द की उक्त भूमि के डायवर्सन के लिए आवेदन किया था। लेकिन उक्त आवेदन साल 2013 में विभिन्न कारणों से निरस्त कर दिया गया। ऐसे में होटल का निर्माण पूर्ण रूप से अवैध माना जा रहा है। अधिकारियों की आंखों में धूल झोंक कर किए गए निर्माण अब जल्द ही कार्रवाई की जद में आ सकता है

होटल के नक्शे पर भी लगा प्रश्नचिन्ह

जिस भूमि पर तीन मंजिला भव्य होटल का निर्माण किया गया है उसका नक्शा भी अब शंका के गहरे में हैं बताया जा रहा है कि दस्तावेजों में हेराफेरी कर नक्शा पास करवाया गया है। जबकि राजस्व विभाग ने उक्त जमीन का डायवर्सन ही निरस्त कर दिया है। गौरतलब है कि जिस स्थान पर होटल का निर्माण किया गया है वह पूर्ण रुप से आवासीय बताई जा रही है। जबकि उक्त निर्माण व्यवसाय के उद्देश्य से किया गया है। देखने वाली बात यह है कि शिकायत के बाद उक्त होटल पर क्या कार्रवाई होगी।…निरंतर–

Related Articles

Back to top button
Close