उज्जैन तड़का

मेडिकल संचालक ने शिप्रा नदी में कूदकर की आत्महत्या

मॉर्निंग वॉक के लिए निकला था घर से, महाकाल पुलिस कर रही मामले की जांच

उज्जैन। Sat-10 Oct 2020

साईं धाम कॉलोनी निवासी मेडिकल संचालक ने शनिवार सुबह 7:30 बजे नरसिंह घाट ब्रिज से शिप्रा में छलांग लगा कर आत्महत्या कर ली। सूचना मिलने के बाद गोताखोरों ने 1 घंटे की मशक्कत कर शव को नदी की गहराई से बाहर निकाल लिया। महाकाल पुलिस के अनुसार मेडिकल संचालक सुबह अपने घर से मॉर्निंग वॉक के लिए निकला था।

महाकाल पुलिस ने बताया कि प्रवीण पिता बसंत कुमार चौहान निवासी साईं धाम कॉलोनी शनिवार सुबह 7 बजे अपने घर से मॉर्निंग वॉक के लिए निकला था। तकरीबन 7:30 बजे वह नरसिंह घाट शिप्रा बीच पर जा पहुंचा। यहां से उसने शिप्रा नदी में छलांग लगा दी। प्रवीण को नदी में छलांग लगाता देख लोगों ने इसकी सूचना तुरंत गोताखोरों और होमगार्ड को दी। कुछ ही देर में गोताखोरों ने होमगार्ड की नाव के सहायता से नदी के तल में प्रवीण की खोजबीन शुरू कर दी। जानकारी मिलते ही मौके पर प्रवीण की पत्नी बेटी और अन्य परिजन पहुंच गए थे।

मृतक प्रवीण

आत्महत्या से पहले दोस्त को लगाया था फोन

पुलिस का कहना है कि प्रवीण जब ब्रिज पर पहुंचा तो उसने अपने दोस्त अरुण को मोबाइल लगा का बात की थी। आत्महत्या से पहले उसने अपने दोस्त को अलविदा कहा था। अरुण ने उसे समझाने का प्रयास भी किया था। इसके बाद अरुण ने प्रवीण के परिजनों को इसकी जानकारी दी। अनहोनी की आशंका के बाद परिजन तुरंत शिप्रा नदी घाट पर पहुंच गए थे। उक्त मामले में महाकाल पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है।

शिप्रा नदी

शव देखकर बिलख पड़े परिजन

होमगार्ड के गोताखोरों ने 1 घंटे की मशक्कत के बाद शिप्रा नदी से प्रवीण के शव को बाहर निकाल लिया। गोताखोर जब शव को नदी से बाहर लाए तो परिजन बिलख पड़े। मतक प्रवीण की पत्नी और बेटी लगातार उसे उठाने का प्रयास करती रही। इस दौरान परिवार के अन्य सदस्यों ने उन्हें संभाला। पुलिस का कहना है कि प्रारंभिक रूप से मेडिकल संचालक प्रवीण की आत्महत्या का कारण अभी सामने नहीं आ सका है।

ज्योतिष्य का था ज्ञान

परिजनों ने पुलिस को बताया कि प्रवीण ज्योतिषी का भी ज्ञान रखता था। इसके अलावा चैरिटेबल अस्पताल और भैरू नाला पर उसके मेडिकल थे। पुलिस के अनुसार प्रवीण मिलनसार बताया जा रहा है। पुलिस को यह भी जानकारी मिली है कि प्रवीण को किसी व्यक्ति से 15 लाख रुपए लेना थे। लेकिन वह कई दिनों से उसे परेशान कर रहा था। पुलिस विभिन्न पहलुओं पर जांच कर रही है।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close