उज्जैन तड़का

Ujjain- 8 साल के मासूम की बेरहमी से की हत्या

किराएदार के कमरे से मिला मासूम का शव, शरीर पर मिले जले हुए निशान

उज्जैन के नीलगंगा थाना क्षेत्र अंतर्गत न्यू इंदिरा नगर बस्ती में एक 8 साल के मासूम की हत्या नृशंस तरीके से कर दी गई। पुलिस को शंका है कि मकान में रहने वाले किराएदार ने ही बालक की हत्या की है। घटना के बाद से आरोपी फरार बताया जा रहा है।

उज्जैन। Tue-20 Oct 2020

न्यू इंदिरा नगर में रहने वाले किराना दुकान संचालक के 8 साल के मासूम बालक की हत्या दर्दनाक तरीके से उसी के मकान में रहने वाले किराएदार ने कर दी। बालक सोमवार शाम 6:00 बजे से लापता बताया जा रहा था। परिजनों ने उसकी गुमशुदगी की शिकायत नीलगंगा थाने में की थी। नहीं मिलने पर पुलिस ने मंगलवार सुबह किराएदार के कमरे की तलाशी ली तो उसमें से बालक का शव मिला। पुलिस आरोपी की तलाश में जुटी हुई है।

नीलगंगा पुलिस ने बताया कि कृष्णा उर्फ कान्हा पिता मुकेश प्रजापति 8 साल निवासी न्यू इंदिरा नगर सोमवार शाम 6:00 बजे से लापता था। परिजनों ने उसकी गुमशुदगी की सूचना पुलिस को दी थी। देर शाम तक पुलिस और परिजनों ने उसकी खोजबीन की लेकिन वह नहीं मिला। मंगलवार सुबह पुलिस तलाश करती हुई मुकेश प्रजापति के मकान में किराए से रहने वाले सुनील पिता शांतिलाल के कमरे में पहुंची। कमरे की तलाशी लेने पर गोदड़ी में लपेट कर कृष्णा का शव पड़ा हुआ मिला। जिसे देखकर परिजनों में हड़कंप मच गया। घटना के समय सुनील लापता था। पुलिस ने आरोपी की खोजबीन के प्रयास शुरू कर दिए हैं।

पूरे शरीर पर मिले जले हुए निशान

8 साल के मासूम का शव देखकर पुलिस और परिजन भी सहम गए। मासूम के पूरे शरीर पर जगह-जगह जलाने के दाग के निशान मिले हैं। मौके पर एफएसएल की टीम भी जांच के लिए पहुंच गई थी। पुलिस को शंका है कि आरोपी ने सोमवार शाम या देर रात में मासूम बालक की हत्या कर दी होगी। शंका है कि आरोपी ने गला दबाकर बालक को मारा होगा। तथा उसके बाद शरीर पर दागा होगा। पुलिस ने इस मामले में तंत्र क्रिया किए जाने से स्पष्ट इनकार कर दिया है। पीएम रिपोर्ट आने के बाद बालक की मौत का कारण सामने आ सकेगा।

कल शाम से था लापता

सोमवार शाम 6:00 बजे घर के बाहर खेलते समय कृष्णा अचानक लापता हो गया था। पिता मुकेश प्रजापति और अन्य परिजन उसकी खोजबीन में लगे हुए थे। पुलिस के अनुसार मुकेश की 10 साल की बालिका चिक्की, 5 साल का लड्डू, और 3 साल की गुड़िया है। मृतक कृष्णा मुकेश का दूसरे नंबर का बेटा था। पुलिस ने बताया कि मुकेश आंशिक रूप से विकलांग है। तथा वह घर के बाहर बनी किराना दुकान चलाता है। उसके मकान के ऊपरी हिस्से में दो किराएदार भी रहते हैं। जिसमें से एक हत्या का आरोपी बताया जा रहा है।

2 साल से रह रहा था किराए से

प्रारंभिक जांच में पुलिस के सामने जानकारी आई है कि मुकेश प्रजापति के मकान में दो किराएदार रहते हैं। जिसमें ओमप्रकाश पिता राधेश्याम अपने परिवार के साथ रहता है। जबकि सुनील पिता शांतिलाल पिछले 2 सालों से अकेला रह रहा था। वह मजदूरी करता था। घटना के बाद से वह फरार बताया जा रहा है। उसी के कमरे में गोदड़ी में लपटा हुआ कृष्णा का शव मिला है। पुलिस आरोपी के संबंध में जानकारी जुटा रही है।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close