उज्जैन तड़का

कांग्रेस प्रवक्ता नूरी खान गिरफ्तार, जमानत पर छोडा

दो दिन पहले ऑक्सीजन प्लांट पर किया था हंगामा, पुलिस ने तीन धाराओं में दर्ज किया था प्रकरण

whatsaap
उज्जैन। Tue-27 Apr 2021

मध्य प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता और अल्पसंख्यक आयोग की सदस्य नूरी खान को मंगलवार सुबह नानाखेड़ा पुलिस ने उनके घर से गिरफ्तार कर लिया। हालांकि कुछ ही घंटों पर नानाखेड़ा थाने से ही नूरी खान को जमानत पर वापस रिहा कर दिया गया। इस दौरान तराना विधायक महेश परमार और अन्य कांग्रेसी नेता थाने पर पहुंच गए थे।

ग्राम गंगेडी स्थित ऑक्सीजन प्लांट पर दो दिन पहले हंगामा करना कांग्रेस प्रवक्ता नूरी खान को महंगा पड़ गया। नूरी खान के खिलाफ सोमवार को नानाखेड़ा पुलिस ने उद्योग विभाग के मैनेजर अतुल वाजपेयी की शिकायत के बाद शासकीय कार्य में बाधा की धारा 353, 188, 269 और 270 के तहत प्रकरण दर्ज किया था। मंगलवार सुबह नानाखेड़ा थाने की टीम तीन वाहनों में अचानक नूरी खान के घर जा पहुंची। पुलिस अधिकारी ने एफआईआर के संबंध में जानकारी देते हुए उनकी गिरफ्तारी की। इसी दौरान नूरी खान ने पुलिस की इस कार्रवाई का विरोध भी किया। पुलिस की टीम नूरी खान को गिरफ्तार कर नानाखेड़ा थाने लेकर पहुंंची। गिरफ्तारी की जानकारी लगते ही तराना विधायक महेश परमार, कांग्रेसी नेता वीनू कुशवाह, अजीतसिंह सहित अन्य लोग नानाखेड़ा थाने पहुंंच गए थे।

Ujjain- सीएसपी ने भांग बेच रहे पिता-पुत्र को दबोचा

गिरफ्तारी का विरोध

विधायक परमार ने थाने पर डीएसपी एचआर बाथम और टीआई ओपी अहीर के सामने नूरी खान की गिरफ्तारी का विरोध दर्ज कराया। उनका कहना था कि 7 साल से कम सजा वाले अपराध में किसी को भी इस तरह से गिरफ्तार नहीं किया जा सकता। उन्होंने हाईकोर्ट के निर्देश का भी हवाला अधिकारियों को दिया। उसके बाद पुलिस ने विधायक की जमानत पर नूरी को रिहा कर दिया। गौरतलब है कि विधायक महेश परमार और नूरी खान द्वारा कोरोना संक्रमित मरीजों को हो रही परेशानी और ऑक्सीजन की कमी के साथ ही स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर लगातार विरोध प्रदर्शन किए जा रहे है।

देशमुख अस्पताल से हो रही थी रेमडेसिविर की कालाबाजारी

यह था मामला…

2 दिन पहले वह इंदौर रोड स्थित तपोभूमि के समीप ग्राम गंगेड़ी में बने ऑक्सीजन प्लांट पर नूरी खान अपने समर्थकों के साथ हुंची थी। नूरी खान ने आरोप लगाया था कि उज्जैन जिले में ऑक्सीजन की कमी होने के बाद भी बड़ी तादाद में देवास भोपाल और रतलाम भेज जा रही थी। जिसका उन्होंने विरोध किया था और ऑक्सीजन की उपलब्धता जिले में ही कराने की मांग रखी थी। उनके साथ ऑक्सीजन के जरूरतमंद भी प्लांट पर पहुंचे थे। उक्त घटना के बाद प्लांट के आसपास पुलिस बल की तैनाती कर दी गई थी। इसके अलावा कुछ दिन पहले नूरी खान ने माधवनगर अस्पताल पहुंंच कर भी अपने समर्थकों के साथ मरीजों को मिल रहे इलाज पर प्रश्न चिन्ह लगाया था।

बहन की लाश लेकर थाने पहुंंचा भाई, लगाया हत्या का आरोप

समर्थन में आई शहर कांग्रेस

प्रवक्ता नूरी खान पर नानाखेड़ा पुलिस द्वारा किए गए प्रकरण दर्ज और गिरफ्तारी को पुलिस की तानाशाही बताते हुए कांग्रेस शहर अध्यक्ष महेश सोनी, जिला अध्यक्ष कमल पटेल और वरिष्ठ नेता बटुक शंकर जोशी ने इसकी कड़ी निंदा की है। उन्होने आरोप लगाया कि सरकार कोरोना काल में लोगोें को बेहतर स्वास्थ्य व्यवस्था उपलब्ध करवाने में नाकाम साबित हुई है। यहीं कारण है कि लगातार शहर में कोरोना संक्रमण से लोगों की मौत हो रही है। ऑक्सीजन की कमी के चलते प्रतिदिन कई मरीज अस्पताल में दम तोड़ रहे है। नूरी खान ने भी इसी अव्यवस्था के खिलाफ आवाज उठाई थी। लेकिन पुलिस ने तानाशाही करते हुए उनकी आवाज को बंद करने का प्रयास किया। इस संबंध में एक पत्रकारवार्ता बुधवार को आयोजित की गई है।

मेडिकल कॉलेज में मृतक के परिजन और डॉक्टर के बीच मारपीट

Ujjain-रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी रोकेगी पुलिस

कोरोना इफेक्ट-बिना बैण्ड-बाजा और बारात के होगी शादी

सरपंच के खेत से पकड़ाई अवैध शराब बनाने की फैक्ट्री

उज्जैन में एक बार फिर बड़ा लॉकडाउन

Ujjain-अंधविश्वास-झाड़ फूंक से कर रहा था बुखार का इलाज

सीएसपी ने बाइक सवारों को पकड़ा, लगवाई उठक-बैठक

Ujjain-बीमार को ले जा रही कार को रोका, अस्पताल में मौत

उज्जैन में लगा 19 अप्रैल तक लॉकडाउन

Tags

Related Articles

Back to top button
Close