उज्जैन तड़काभैंकर

Video-भेरूगढ़ पुलिस ने छापा मारा, 480 लीटर एसिड जब्त

-देर रात एक बजे हुई कार्रवाई, पुलिस को देखकर मालिक भागा

जहरीली शराब कांड के मामले में आरोपी जितेन्द्र मुकाती के भाई के गोदाम पर पुलिस ने देर रात छापा मारा। इसी दौरान पुलिस को वहां से एसिड से भरी हुई कैन मिली। पुलिस ने रात में ही गोदाम सील कर मामले को जांच में लिया है।

उज्जैन। Sun-06 Jun 2021

भेरूगढ़ पुलिस ने थाना क्षेत्र अंतर्गत एक गोदाम में शनिवार-रविवार देर रात में छापा मारा। पुलिस की कार्रवाई से पहले ही गोदाम मालिक मौके से भाग निकला। पुलिस को गोदाम की तलाशी के दौरान बड़ी मात्रा में कैन में भरा हुआ एसिड मिला है। उक्त गोदाम राकेश मुकाती का बताया जा रहा है। पुलिस ने गोदाम सील कर मामले को जांच में लिया है।

थाना प्रभारी सतनाम सिंह ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली थी कि केडी पैलेस के पास जहरीली शराब बनाने का कार्य चल रहा हैं। यहां टीम के साथ दबिश दी गई, तो 40 लीटर के 12 केन मिले, जिनमें भारी मात्रा में तेजाब रखा हुआ था। उक्त गोदाम राकेश मुकाती का है। जहां पर छापामार कार्रवाई की गई। पुसिल ने 12 केन में भरा 480 लीटर एसिड जब्त किया है। जब्त किए गए एसिड की जानकारी ड्रग्स विभाग को दी जाएगी। पुलिस की कार्रवाई की भनक गोदाम मालिक को लग गई थी। जिसका फायदा उठाकर वह खिड़की से कूद कर भाग निकला। पुलिस की टीम मुकाती की खोजबीन कर रही है। गौरतलब है कि गोदाम मालिक राकेश मुकाती जहरीली शराब कांड के आरोपी जितेंद्र मुकाती का भाई हैं। जितेंद्र करीब आठ महीने पहले से अभी तक भैरूगढ़ जेल में बंद हैं। थाना प्रभारी सतनाम सिंह कार्रवाई के दौरान गोदाम को सील कर दिया गया।

वीडियो देखें…

UJJAIN-पुलिस से नहीं बच सका शातिर बदमााश

19 लोगों को बताया था आरोपी

पिछले साल उज्जैन में हुए जहरीली शराब कांड में पकड़े गए 19 आरोपियों में केमिकल संचालक जितेंद्र मुकाती भी था। उक्त मामले में फैक्ट्री संचालक संजय शर्मा भी आरोपी था, जो अभी जमानत पर जेल से बाहर है। जहरीली शराब बनाने में आरोपियों द्वारा जिस केमिकल का उपयोग किया गया था। वह केमिकल जितेंद्र मुकाती ने उपलब्ध करवाया था। इसके बाद जितेंद्र ने स्प्रिट बर्खास्त आरक्षक आरोपी शेख अनवर के भाई फारुख को दिया था। फारूक ने अपने भाई शेख अनवर और सिकंदर को दिया था।

5 स्टॉर होटल से कम नहीं है उज्जैन का यह थाना

14 लोगों की हुई थी मौत

14 और 15 अक्टूबर 2020 को खाराकुआं थाना क्षेत्र में जहरीली शराब पीने से 14 लोगों की मौत हो गई थी. जांच में पता चला था कि शराब नगर निगम का कर्मचारी सिकंदर और उसके साथी गब्बर, यूनुस बनाकर बेच रहे थे। पुलिस ने 1571 पेज का चालान कोर्ट में पेश किया था। 19 लोगों को आरोपी बनाया गया था, जिसमें से एक आरोपी की मौत भी हो गई हैं। कुल 18 आरोपियों के खिलाफ चालान पेश किया गया। इन आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका हैं, जिसमें तीन आरक्षक भी शामिल हैं. वहीं कुछ जिम्मेदार अधिकारियों के तबादले भी किए गए हैं।

प्लास्टिक की पिस्टल से लूटने निकले थे एटीएम

UJJAIN-महिला को देखकर सांसद ने जोड़ लिए हाथ

चंदननगर में पडोसियों के विवाद में डबल मर्डर

मामूली विवाद के बाद तिलकेश्वर कॉलोनी में युवक की हत्या

बदमाशों से ठगाई वृद्धा तीन थानों के बीच होती रही परेशान

महाकाल परिसर की खुदाई में मिला ऐसा कुछ, रह जाएंगे हैरान

7 साल से बंद रेलवे ट्रेक पर अभी नहीं दौड़ेगी ट्रेन

UJJAIN-गैस सिलेंडर से भरे ट्रक ने बाइक सवार को रौंदा

एडवांस टेक्नॉलाजी की बोट से बचेगी डूब रहे लोगों की जान

एक सप्ताह में कोरोना से उद्योगपति पिता-पुत्र का निधन

उज्जैन के ठेकेदार को लाखों का चूना लगाकर भागी युवती

Video-हादसे में भाई-बहन की मौत, माता-पिता शव लेकर भागे  

वैक्सीनेशन में उज्जैन ने बताया रिकार्ड, इतने लोगों को वैक्सीन

अपनी इस गलती के कारण सांसद ने कटवाया खुद का चालन

महाकाल मंदिर में खुदाई के दौरान मिले प्राचिन मंदिर के अवशेष

Tags

Related Articles

Back to top button