उज्जैन तड़कामप्र तड़का

उज्जैन- संकट में है थाना, रक्षा करेंगे संकट मोचन हनुमान

-कोरोना से बचने का बेहतरीन उपाय, टेंट में हो रही सुनवाई

उज्जैन। Mon-21 Sep 2020

कोरोना संक्रमण से उज्जैन के नीलगंगा थाना प्रभारी की शाहदत और उसके बाद लगातार स्टॉफ के संक्रमित होने से पूरा स्टॉफ संकट में दिखाई दे रहा था। लिहाजा तय किया गया की जो पूरी दुनिया के संकट हरते है, संकट मोचन हनुमान की शरण में जाया जाए। यहीं कारण है कि थाने के मुख्य द्वार पर हनुमान की स्थापना की गई।

नीलगंगा थाने के तत्कालीन थाना प्रभारी यशवंतपाल की कोरोना संक्रमण से शाहदत हो गई थी। उनके स्थान पर निरीक्षक कुलवंत जोशी को थाना प्रभारी बनाया गया। उन्होने भी बहुत मेहनत की। लेकिन कुछ ही दिनो में उन्हे भी हार्ट अटेक के चलते इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाना पड़ा। यहीं नहीं पिछले कुछ महीनों में नीलगंगा थाने पर संकट के ऐसे बादल छाए की। स्टॉफ के पांच लोग कोरोना पॉजिटिव हो गए। जिसको लेकर स्टॉफ सकते में है। संकट से बचने के लिए थाने के मुख्य द्वार पर संकट मोचन हनुमान जी की स्थापना कर दी गई। ताकि आने वाले समय में थाने में किसी भी प्रकार का कोई संकट न हो।

परिवार भी झेल रहा परेशानी

उल्लेखनीय है कि नीलगंगा थाने में अब तक कोरोना से थाना प्रभारी, दो एसआई, एक प्रधान आरक्षक और दो आरोपी संक्रमित हो चुके है। एक एसआई के साथ उनकी पत्नी भी कोरोना संक्रमित हो गई थी। जिनकी इलाज के दौराम मौत हो गई। जबकि प्रधान आरक्षक की पत्नी भी संक्रमण की चपेट में आ चुकी है। हालत यह है कि स्टॉफ के साथ अब परिवार को भी गंभीर परेशानी को झेलना पड़ रहा है।

हर थाने में होना ऐसी सुनवाई

गौरतलब है कि भोपाल के अधिकांश थानों में एक खिड़की के माध्यम से पीड़ितों की सुनवाई की जाती है। गंभीर होने पर थाने में प्रवेश दिया जाता है। ताकि स्टॉफ कोरोना से बच सके। नीलगंगा थाने में भी अधिक भीड़ होने पर परिसर में लगे टेंट में फरियादी की सुनवाई की जाती है। पुलिस को अगर कोरोना से बचाना है तो हर थाने में इस प्रकार की व्यवस्था होनी चाहिए।

आने वालों की होगी स्केनिंग

नीलगंगा थाना प्रभारी रविन्द्र यादव ने बताया कि भीड़ अधिक होने पर फरियादी और उनके साथ आने वालों को से टेंट में भी जानकारी ली जाएगी। इससे कोरोना संक्रमण पर रोक थाम लग सकेंगी। थाने में आने वाले की जांच के लिए थर्मल स्केनिंग से उसका तापमान भी जांचा जाएगा।

यह भी पढे…

ujjain-एक हजार लोगों को भेजा जाएगा अस्थाई जेल

Indore-पानी से भरी बाल्टी में डूबी गई दो साल की मासूम

मरीज की मौत के बाद, डॉक्टरों के साथ की मारपीट

ujjain-स्कूल खुलेंगे, लेकिन नहीं लगेंगी क्लासेस

टीआई बने सिंघम, पूर्व पार्षद ने धक्का दिया तो मारा पंजा, वीडियो देखें

ujjain-उफनती शिप्रा नदी में एक ही परिवार के 5 लोग गिरे, वीडियो देखें

दुकानदारों को ठगने का नया तरिका लाए बदमाश

ujjain-CBI अधिकारी बनकर आए बदमाशों ने ठगे सोने आभूषण

पार्टनरों के षड़यंत्र का शिकार हो रहा व्यापारी

अधिक दामों में बेच रहा था यूरिया, विरोध के बाद दुकान सील

Tags

Related Articles

Back to top button
Close