भैंकरमप्र तड़का

जीतू सोनी के करीबी नरेंद्र रघुवंशी ने लगाई फांसी

मंगलवार को पैरोल खत्म होने के बाद जाना था जेल

इंदौर। Tue-27 Oct 2020

इंदौर के सबसे बड़े माफिया जीतू उर्फ जितेंद्र सोनी के साथी नरेंद्र रघुवंशी ने सोमवार देर रात फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। नरेंद्र ने एक सुसाइड नोट भी लिखा है, जिसमें उसने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं। 

पुलिस के अनुसार  नरेंद्र  रघुवंशी ने  अपने घर में रस्सी का फंदा बनाकर  सोमवार देर रात को  फांसी लगा ली।  मंगलवार सुबह  परिजनों ने उसे  फंदे पर लटका हुआ देखा  और पुलिस को सूचना दी।  मंगलवार को  पैरोल समाप्त होने के बाद  नरेंद्र को  जेल जाना था।  घटना की जानकारी लगते ही  मौके पर अन्नपूर्णा थाना पुलिस  पहुंच गई थी। नरेंद्र होटल मायहोम में पश्चिम बंगाल की युवतियों को बंधक बनाकर उनसे डांस करवाने और देहव्यापार करवाने के आरोप में शामिल था। अन्नपूर्णा थाना टीआइ सतीश द्विवेदी के मुताबिक नरेंद्र के खिलाफ पलासिया थाना में मानव तस्करी और देहव्यापार का केस दर्ज हो चुका है। पिछले वर्ष पुलिस ने मायहोम में छापा मारकर करीब 60 लड़कियों को मुक्त करवाया था। उस वक्त नरेंद्र को जीतू सोनी के बेटे अमित के साथ गिरफ्तार कर लिया था। कुछ दिनों पूर्व उपचार के लिए नरेंद्र को पेरोल पर छोड़ा गया था। मंगलवार को उसके पैरोल का अंतिम दिन था और उसे जेल दाखिल होना था। संभवतः इसी कारण फांसी लगाकर आत्महत्या की है ।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close