उज्जैन तड़का

माधवनगर अस्पताल में इस तरह हो रहा है इलाज

-अस्पताल के डॉक्टर और नर्सिंग स्टॉफ को बताया ठीक होने की वजह

उज्जैन के माधवनगर अस्पताल से कोरोना संक्रमण का इलाज करवाकर ठीक हुए एक पुलिस आरक्षक ने बताया की 12 दिनों तक चले इलाज के दौरान उसे नर्सिंग स्टॉफ का कितना सहयोग मिला। बेहतर व्यवस्था और इलाज के कारण वह कुछ ही दिनों में कोरोना को मात देकर स्वस्थ्य हुआ है।

उज्जैन। Mon-03 May 2021

उज्जैन पुलिस लाईन में पदस्थ एक आरक्षक कोरोना को हराकर पूर्ण रूप से स्वस्थ्य हो गया। माधवनगर अस्पताल से छुट्टी मिलते ही आरक्षक ने इलाज के दौरान उसे जो डॉक्टर और नर्सिंग स्टॉफ का सहयोग मिला उसके बारे में बताया। आरक्षक का कहना था कि बाहर माधवनगर अस्पताल के बारे में जो भी भ्रांतियां फैलाई जा रही वह सरासर गलत है। अस्पताल में बेहतर इलाज किया जा रहा है। जिसके कारण मरीज ठीक हो रहे है।

गौरतलब है कि 12 दिन पहले पुलिस लाईन में पदस्थ आरक्षक हरेन्द्रसिंह कोरोना संक्रमित हो गया था। हालत बिगड़ी तो उसे इलाज के लिए माधवनगर अस्पताल में भर्ती किया गया। 12 दिनों तक लगातार उसका इलाज किया गया। अस्पताल में चले इलाज के कारण वह पूर्ण रूप से स्वस्थ्य हो गया। सोमवार को आरक्षक हरेन्द्रसिंह को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। अस्पताल से बाहर आने से पहले उसने नर्सिंग स्टॉफ द्वारा बनाए गए वीडियो में बताया कि माधवनगर अस्पताल में कोरोना से संक्रमित मरीजो का उच्चस्तरिय इलाज किया जा रहा है। बेहतर इलाज के कारण ही वह कोरोना से ठीक होकर अपने घर जा रहा है।

स्टॉफ ने किया हमेशा सपोर्ट

आरक्षक ने बताया कि इलाज के दौरान 12 दिनों तक अस्पताल के स्टॉफ ने उसका बहुत सपोर्ट किया। प्रतिदिन बेहतर इलाज और दवाईयां समय पर दी गई। डॉक्टर से लेकर नर्सिंग स्टॉफ ने उसे लगातार उसका उत्साह बनाए रखा। जिसका परिणाम यह हुआ की वह मात्र 12 दिनों में ही ठीक होकर अपने घर जा पा रहा है। उसने बताया कि माधवनगर अस्पताल के बारे में बाहर जो भी भ्रांतियां फैलाई जा रही है वह सरासर गलत है। यहां से अधिकांश मरीज स्वस्थ्य हो कर अपने घर जा रहे है।

दिन रात कर रहे सेवा

वीडियों में आरक्षक ने बताया कि अस्पताल में इलाज की अवधि के दौरान मेरे साथ ही वार्ड में भर्ती प्रत्येक मरीज का बेहतर इलाज किया जा रहा है। समय पर प्रति दिन चेकअप, दवाईयां और खाना दिया जा रहा है। माधवनगर अस्पताल का स्टॉफ दिन रात मेहनत कर कोरोना संक्रमित मरीजो का बेहतर से बेहतर इलाज कर रहा है। उसकी सेवा कार्य से ही कई मरीज ठीक हो रहे है।

Ujjain-गुरुनानक एवं देशमुख अस्पताल पर हो सकती है FIR

Ujjain-700 रुपए के खातिर काट दिया दोस्त का गला

आईटी सेल ने उठाई जनता की आवाज, माफ हो बिजली बिल

जिले में 12 सेंटरों पर लगाए जाएगें 18 प्लस को वैक्सीन

कांग्रेस प्रवक्ता नूरी खान गिरफ्तार, जमानत पर छोडा

Ujjain- सीएसपी ने भांग बेच रहे पिता-पुत्र को दबोचा

ऐसे होगा कोरोना मुक्त उज्जैन, 400 टीम करेगी सर्वे

देशमुख अस्पताल से हो रही थी रेमडेसिविर की कालाबाजारी

बहन की लाश लेकर थाने पहुंंचा भाई, लगाया हत्या का आरोप

अस्पताल के पंखे से मरीज को लग रहा डर-जानिए कारण

Tags

Related Articles

Back to top button
the tadka news
Close