उज्जैन तड़का

Ujjain पुलिस ने अंर्तराज्यीय गिरोह के 32 बदमाशों को दबोचा

उत्तर प्रदेश में लूट के बाद उज्जैन में करवाने आए थे अनुष्ठान

उज्जैन। Fri-30 July 2021

रामघाट स्थित धर्मशाला से पुलिस की टीम ने सांसी गिरोह के 32 सदस्यों को हिरासत में लिया है।जिसमें से 17 सदस्यों के खिलाफ मध्यप्रदेश सहित राजस्थान और अन्य राज्यों में चोरी,डकैती, लूट और मारपीट के केस दर्जहै। गिरोह में शामिल बदमाशों ने उत्तरप्रदेश में भी एक बड़ी चोरी की वारदात को अंजाम दिया था।

गौरतलब है कि प्रदेश के बलरामपुर में लाखों की चोरी की वारदात को अंजाम देकर फरार हुए बदमाशों को तलाशते हुए उत्तर प्रदेश पुलिस राजगढ़ ब्यावरा के सांसी गिरोह के गांव जा पहुंची। लेकिन पुलिस के पहुंचने के पहले ही बदमाश वहां से भाग निकले। उत्तर प्रदेश पुलिस लगातार बदमाशों की लोकेशन ट्रेस कर रही थी। लाखों की चोरी में शामिल बदमाश अरूण नामक बदमाश की लोकेशन उज्जैन के रामघाट क्षेत्र में यूपी पुलिस को मिली थी। बदमाशों के पीछे लगी पुलिस ने स्थानीय पुलिस अधिकारियों से संपर्क किया। रात 1 बजे उज्जैन पुलिस से यूपी पुलिस ने संपर्क किया। जिसके बाद पुलिस ने रामघाट स्थित धर्मशाला में दबिश दी। इसी दौरान उत्तर प्रदेश पुलिस भी पहुंच चुकी थी। दबिश के दौरान पुलिस की टीम ने धर्मशाला से 32 बदमाशों को पकड़ा। जिसमें उत्तर प्रदेश के बलरामपुर में हुई चोरी का आरोपी अरुण भी शामिल था।

कई राज्यों में की वारदात

पकड़ाए गए सभी लोगों को महाकाल थाने के साथ ही अन्य थानों में पुलिस ने रखा है। जहां पूछताछ की जा रही थी। पुलिस का कहना था कि बदमाशों का गिरोह कई राज्यों में वारदात कर चुका है। प्रारंभिक जानकारी में बदमाशों के लूट चोरी डकैती जैसे मामलों में शामिल होने की जानकारी सामने आई है। बदमाशों का अपराधिक रिकॉर्ड एकत्रित किया जा रहा है। पुलिस का कहना है कि बदमाशों ने राजस्थान, महाराष्ट्र, यूपी और अन्य राज्यों में वारदात की है।

अनुष्ठान करवाने आए थे उज्जैन

प्रारंभिक पूछताछ में सामने आया कि बदमाशों का गिरोह उज्जैन में एक धर्मिक अनुष्ठान करवाने के लिए आया हुआथा। पुलिस ने उनके कब्जे से दो वाहन भी जब्त किए है। यह जानकारी भी सामने आई है कि गिरोह से जुड़े कुछ लोग पूर्व में भी धार्मिक आस्था के नाम पर राम घाट स्थित धर्मशाला में आ चुके हैं। दबिश के बाद पुलिस इस बात की जानकारी भी जुटा रही थी कि बदमाश उज्जैन तक कैसे पहुंचे हैं। बदमाशों की योजना उज्जैन में कोई बड़ी वारदात की तो नहीं थी। शाम तक पूछताछ जारी थी वही राजगढ़ पुलिस भी उज्जैन के लिए रवाना हो चुकी थी।

श्रद्धालु भी थे निशाने पर

पूछताछ में सामने आया कि सांसी गिरोह के 32 सदस्य चोरी, लूट और मारपीट जैसे कई मामलों में शामिल रह चुके है। शंका है कि श्रावण सोमवार को उज्जैन में महाकाल दर्शन को आने वाले श्रद्धालु भी इनके निशाने पर थे। हालांकि पुलिस का कहना है कि बदमाश जहा भी जाते है वहां इस प्रकार की वारदात को अंजाम देते है। गिरोह के 17 लोगों के खिलाफ अपराधिक रिकार्ड सामने आए है। बाकि के 15 के संबंध में जानकारी जुटाई जा रही है।

इनका कहना हैै…

रामघाट स्थित धर्मशाल से सांसी गिरोह के 32 सदस्यों को हिरासत में लिया है। जिसमें ने 17 के अपराधिक रिकार्ड पुलिस को मिल चुके है। बाकि के संबंध में जानकारी जुटाई जा रही है। गिरोह के सदस्यों ने यूपी में भी एक बड़ी वारदात को अंजाम दिया है। यूपी पुलिस भी इस संबंध में पूछताछ कर रही है।

सत्येन्द्र कुमार शुक्ल, पुलिस अधीक्षक
Tags

Related Articles

Back to top button