उज्जैन तड़का

Ujjain-ब्लैक फंगस का कहर: 7 मरीजों की आंख निकाली

-जिला अस्पताल में 14 मरीजों का चल रहा इलाज, कई लोग हो चुके स्वस्थ्य

उज्जैन ( Ujjain ) में भले ही कोरोना से जंग जीत ली हो लेकर उसके बाद ब्लैक फंगस से पीडित मरीजों को जिन्दगी भर का दर्द उठाना पड़ेगा। ब्लैक फंगस बीमारी से गंभीर रूप से पीडित 7 मरीजों की एक आंख निकाल दी गई। वर्तमान में सभी स्वस्थ्य होकर अपने घर पहुंच चुके है।

उज्जैन। Thu-08 July 2021

कोरोना के बाद अभी ब्लैक फंगस ( Black Fungus ) का कहर जारी है। गंभीर रूप से पीडित 7 मरीजों की आंख को निकालना पड़ा है। जिसके कारण अब वह केवल एक ही आंख से देख सकेंगे। इन पीडितों में एक महिला और 6 पुरुष है। जिसकी उम्र 35 से 70 साल के बीच है। हालांकि सभी मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज किया जा चुका है। बताया जा रहा है कि 7 मरीजों के ब्रेन तक फंगस पहुंच चुकी थी।

कोरोना संक्रमण की चपेट में आने से कई लोगों की जान चली गई। उसके बाद भी जिला प्रशासन ने संक्रमण पर तेजी से काबू पाया। लेकिन इन सब के बीच लाइन आॅफ ट्रीटमेंट के तहत दी गई स्टेरॉयड से कोविड के 148 से ज्यादा मरीजों में ब्लैक फंगस हो गई। इसका असर मरीजों की आंख और पेट पर पड़ा। जिसका दुखद परिणाम यह हुआ की 7 मरीजों की आंख निकालना पड़ी। जबकि दूसरे मरीजों का आॅपरेशन कर पेट से फंगस निकाली गई। 7 में से पांच मरीजों को इंदौर रैफर किया गया था। जबकि दो को आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज में भेजा गया था।

यह भी पढ़ें…वैक्सीनेशन सेंटरों पर हंगामा, पुलिस ने तीन को लोगों को पकड़ा

19 मरीजों का हो रहा इलाज

गौरतलब है कि वर्तमान में आगर रोड स्थित आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज  ( Rd Gardi Medical College ) में 5 और जिला अस्पताल के ब्लैक फंगस वार्ड में 14 मरीज भर्ती हैं जिनका इलाज किया जा रहा है। वहीं गंभीर रूप से बीमार 7 मरीजों की आंखें निकालना पड़ी, बाकी मरीजों का प्राइवेट अस्पतालों में इलाज चल रहा है। मेडिकल कॉलेज में कुल 110 मरीज तथा जिला अस्पताल में 38 मरीज भर्ती हुए। जिनमें से अधिकांश इलाज के बाद स्वस्थ्य होकर घर चले गए।

ये भी पढ़े  राज्य सायबर सेल की उज्जैन टीम को मिला साइबर कॉप ऑफ़्‌ द ईयर

यह भी पढ़ें…तीन स्थानों पर सनसनीखेज चोरी की वारदात

स्वास्थ्य में हुआ सुधार

इलाज के बाद मेडिकल कॉलेज से 105 तथा जिला अस्पताल से 10-12 मरीज डिस्चार्ज हो चुके हैं तथा आंख तथा ब्रेन से संबंधित करीब 12 मरीजों को अस्पताल से इंदौर या आरडी गार्डी मेडिकल अस्पताल में रैफर किया। जिला अस्पताल में ब्लैक फंगस वार्ड की प्रभारी और ईएनटी स्पेशलिस्ट डॉ. अंशु वर्मा के अनुसार अब तक 15 मरीजों की सर्जरी जिला अस्पताल में हुई है। 14 मरीजों का इलाज अभी जारी है, जिनके स्वास्थ्य में सुधार है।

यह भी पढ़ें…ब्लैक बोर्ड पर सुसाइड नोट लिखकर लगाई फांसी

जिला अस्पताल में नि:शुल्क

जिला अस्पताल में भर्ती कुछ मरीज ऐसे भी हैं जो कि दूसरे अस्पताल में इलाज करवाने के बाद यहां आए है। एम्फोटेरिसिन-बी इंजेक्शन का खर्च नहीं उठा पाने के कारण यह लोग जिला अस्पताल में भर्ती हुए है। यहां पर उन्हें नि:शुल्क इंजेक्शन लगाए जा रहे हैं। हालांकि यह एक अच्छी खबर भी है कि अब तक ब्लैक फंगस के किसी भी मरीज की मौत का मामला सामने नहीं आया है।

जिला अस्पताल में डॉक्टर से हाथापाई पुलिस अधिकारी से भी किया विवाद

यह भी पढ़ें…

Ujjain-तीसरी नजर से नहीं बच पाए लूटेरे, 4 वारदात कबूली

UJJAIN-बहनों के साहस के आगे पस्त हो गया लुटेरा

मंत्री यादव ने कैदियों से पूछा रोज मिलता है ऐसा भोजन

पत्नी के लिए लूट कर ले गया था लाल साड़ी

Ujjain : दुकानदार के गले पर चाकू अड़ाकर 1 साड़ी लेकर भाग गया

हासामपूरा जैन मंदिर में सनसनीखेज चोरी की वारदात

ये भी पढ़े  सीसीटीवी कैमरे में कैद हुए ट्राला चोरों को पुलिस ने दबोचा

VIRAL VIDEO-सामने आया क्राईम ब्रांच की कार्रवाई का सच…

UJJAIN-भेरूगढ़ प्रिटिंग कारखाने में लगी भीषण आग

टैटू ने पहुंचाया सलाखों के पीछे, मुथूट फायनेंस में हुई थी चोरी

डेयरी मेें इस तरह हाथ साफ कर गया बदमाश

UJJAIN-गुंडों की गैंग का गांधीनगर में आतंक

बदमाशों ने कर दिया पुलिस पर हमला, आरक्षक को दांतों से कटा

कपड़ा व्यवसाई के साथ ऑनलाइन लाखों की धोखाधड़ी

खिलौने की तहर तोड़ देता था बाइक के लॉक, आरोपी गिरफ्तार

उज्जैन में फर्जी मैनेजर ने लगाया 15 लाख का चूना

पढ़ते रहे thetadkanews.com देखें खबरे हमारे यूट्यूब चैनल The Tadka News पर जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड की खबरों की अपडेट Whats app ग्रुप और Telegram ग्रुप पर पाए, लेटेस्ट टेक्नोलॉजी, सरकारी योजनाएं, सरकारी नौकरी का अलर्ट हमारे, जुड़िये हमारे फेसबुक Tadka News पेज से…

Deepak Bharti

मैं दीपक भारती thetadkanews.com हिन्दी News वेब पोर्टल का Founder हूं, BA और MA in Mass Communication की पढ़ाई के बाद मैने साल 2008 में पत्रकारिता के क्षेत्र में कदम रखा। मैने शुरूआती दिनों में सांध्य दैनिक News Today, Agniban, Akshar Vishwa, Dainik Swadesh में रिपोर्टर और वर्तमान में Dainik Dabang Dunia में सनियर रिपोर्टर के रूप में काम कर रहा हूं। मैने पत्रकारिता को एक मिशन के रूप में लिया है। बदलती दुनिया पत्रकारिता भी डिजिटल स्वरूप में आ गई हैं। मेरा यह प्रयास रहता है कि खबर जैसी है वैसी ही उसके पाठकों तक पहुंचना चाहिए। ताकि वह उसके हर पहलू को समझ सकें।
Back to top button
मृदुल मधोक यूट्यूब कैसे कमा रहे करोड़ो FASTag वालों के लिए खास खबर, अभी देखें सड़क पर दौड़ेगी jawa 350 bike, यह है कीमत मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने उज्जैन में गाये राम भजन

Adblock Detected

Please uninstall adblocker from your browser.