उज्जैन तड़का

भगवान को भी कर दिया क्वारंटाइन, यह है कारण -VIDEO

-तीर्थ सरोवर के जल से किया था अभिषेक, भगवान को लगी सर्दी

  • उज्जैन के इस्कॉन मंदिर में शुरू हुआ स्नान यात्रा महोत्सव

  • 12 जुलाई को जगन्नाथ, बहन सुभद्रा और बलदाऊ के साथ देंगे दर्शन

  • भक्तों को गजवेश रूप में दर्शन दिए

उज्जैन के इस्कॉन मंदिर में एक पखवाड़े के लिए भगवान जगन्नाथ को क्वारेंटाईन कर दिया गया। स्नान यात्रा महोत्सव के दौरान पुजारियों ने भगवान का जल से अभिषेक किया। ठंडे जल से स्नान करने के कारण भगवान को सर्दी लग गई।

उज्जैन। Fri-25 Jun 2021

भले ही दुनिया को कोरोना महामारी के कारण क्वारंटाइन ( Quarantine ) का अर्थ और उसके फायदे की जानकारी अभी लगी हो। लेकिन भारतीय आयुर्वेद और चिकित्सा में सदियों से यह क्वारंटाइन की महत्वता है। हमारे धार्मिक ग्रंथों में भी इसका उल्लेख है। धार्मिक परंपरा के अनुसार भगवान जगन्नाथ को भी सर्दी लगती है। इस दौरान कुछ समय के लिए भगवान भी क्वारेंटाईन रहकर काढ़ा का सेवन करते है, ताकि उनका उपचार हो सके।

 

भरतपुरी स्थित इस्कॉन ( International Society for Krishna Consciousness ) ISKCON; में गुरुवार को स्नान यात्रा महोत्सव मनाया गया। पुजारियों ने भगवान जगन्नााथ का तीर्थ व सरोवर के जल से अभिषेक किया। धर्म परंपरा के अनुसार ठंडे जल से स्नान कराने के कारण भगवान को सर्दी लग गई है, अब एक पखवाड़े तक वे क्वारंटाइन रहेंगे। इस दौरान भक्त भगवान के दर्शन नहीं कर पाएंगे, केवल पुजारी नियमित आरती पूजन के साथ काढ़ा पिलाकर उनका उपचार करेंगे। स्वस्थ होने के बाद 12 जुलाई को भगवान जगन्नााथ बहन सुभद्रा व बलदाऊ के साथ रथ पर सवार होकर भक्तों को दर्शन देने निकलेंगे।

bhagwan jagnnath

भगवान की लीला

पं. राघव पंडित दास ने बताया कोरोना महामारी के बाद में दुनियाभर लोगों को क्वारंटाइन में रहकर उपचार तथा काढ़े का महत्व समझ आया है। भारतीय समाज में आयुर्वेद की यह चिकित्सा पद्धति सदियों से प्रचलित है। विश्व को इसका ज्ञान कराने के लिए धर्मपरंपरा में भी इसका समावेश किया गया है। इस्कान की स्नान यात्रा इसका प्रत्यक्ष उदाहरण है। सर्दी, खांसी जैसे संक्रामक रोगों में अलग रहकर उपचार तथा आयुर्वेदिक काढ़े का सेवन लाभप्रद है, भगवान जगन्नााथ की लीला ने संपूर्ण जगत को इसका भान कराया है।

ये भी पढ़े  17 महीने बाद भस्म आरती में जयकारों से गूंजा महाकाल मंदिर

यह भी पढ़ें…पानदरीबा में बदमाशों की दहशत,वाहनों के कांच फोड़े

स्नान यात्रा का महत्व

शुक्रवार सुबह इस्कॉन के रीजनल जोनल सेक्रेटरी, महामन प्रभुजी ने शंकराचार्य रचित जगन्नााथ अष्टकम्के साथ स्नान यात्रा के महत्व पर प्रकाश डाला। पश्चात सुबह 10.15 बजे महामन प्रभुजी व भक्तिप्रेम स्वामीजी ने भगवान का अभिषेक किया। शाम को भगवान जगन्नााथ ने भक्तों को गजवेश रूप में दर्शन दिए।

यह भी पढ़ें…डकैती डालने के पहले ही पहुंच गई पुलिस बदमाशों को भेजा जेल

कब और कैसे होंगे स्वस्थ

मान्यता के अनुसार भगवान जगन्नाथ के पुजारी उनके स्वस्थ होने के लिए पूजा करते हैं। 15 दिन तक औषधीय गुणों से युक्त काढ़े का भोग लगाते हैं। काढ़े से भगवान 15 दिन में पुन: स्वस्थ होकर आषाढ़ शुक्ल पड़ीवा (प्रथम तिथि) पर भक्तों को दर्शन देते हैं। तब उन्हें मंदिर के गर्भ गृह में वापस लाया जाता है। भगवान जगन्ना्थ बलभद्र और बहन सुभद्रा के साथ अपनी मौसी रोहिणी से भेंट करने जाते हैं। भगवान यहां 9 दिन तक रहते हैं और उसके बाद अपनी मौसी के घर से वापस अपने मंदिर में लौट जाते हैं।

यह भी पढ़ें…

पानदरीबा में बदमाशों की दहशत,वाहनों के कांच फोड़े

उज्जैन के तीन लोगों की दर्दनाक मौत, रायसेन में हादसा

उज्जैन पुलिस के हत्थे चढ़ा फर्जी आयकर आयुक्त

UJJAIN-युवक की हत्या कर खदान में फैंकी लाश

डेढ़ साल के प्यार का दुखद अंत: प्रेमी-प्रेमिका ने खाया जहर

उज्जैन जिले में यहां हुई इस साल की सबसे अधिक बारिश

Ujjian-वेतन चाहिए तो देने होगा वैक्सीन का प्रमाण पत्र

उज्जैन ने बनाया रिकार्ड, एक लाख से अधिक ने लगवाया टीका

ये भी पढ़े  Ujjain-रिश्तेदारों ने युवती को लगा दिया लाखों का चूना

लॉकडाउन: बाजार बंद सड़कों पर आवागमन चालू

एक दिन में लगाए जाएंगे इतने टीके, जानकर रह जाएंगे हैरान

नशे की लत ने रोड़ पर ला दिया इस बैंक अधिकारी को

ऐसे फेसबुक फ्रेंड से बचके, 5 साल के बालक को ले गया उठाकर

65 साल के वृद्ध का शातिर दिमाग, दंग रह गए पुलिस अधिकारी

उज्जैन पुलिस ने पाकिस्तान सीमा से पकड़ा शातिर बदमाश

चोरों ने मचाया आतंक, परिवार के लोगों को कर दिया कैद

उज्जैन के वृद्ध का दावा, शरीर पर चिपक रही लोहे की वस्तु

UJJAIN-चामुंडा माता चौराहे पर दर्दनाक हादसा

पढ़ते रहे thetadkanews.com देखें खबरे हमारे यूट्यूब चैनल The Tadka News पर जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड की खबरों की अपडेट Whats app ग्रुप और Telegram ग्रुप पर पाए, लेटेस्ट टेक्नोलॉजी, सरकारी योजनाएं, सरकारी नौकरी का अलर्ट हमारे, जुड़िये हमारे फेसबुक Tadka News पेज से…

Deepak Bharti

मैं दीपक भारती thetadkanews.com हिन्दी News वेब पोर्टल का Founder हूं, BA और MA in Mass Communication की पढ़ाई के बाद मैने साल 2008 में पत्रकारिता के क्षेत्र में कदम रखा। मैने शुरूआती दिनों में सांध्य दैनिक News Today, Agniban, Akshar Vishwa, Dainik Swadesh में रिपोर्टर और वर्तमान में Dainik Dabang Dunia में सनियर रिपोर्टर के रूप में काम कर रहा हूं। मैने पत्रकारिता को एक मिशन के रूप में लिया है। बदलती दुनिया पत्रकारिता भी डिजिटल स्वरूप में आ गई हैं। मेरा यह प्रयास रहता है कि खबर जैसी है वैसी ही उसके पाठकों तक पहुंचना चाहिए। ताकि वह उसके हर पहलू को समझ सकें।
Back to top button
मृदुल मधोक यूट्यूब कैसे कमा रहे करोड़ो FASTag वालों के लिए खास खबर, अभी देखें सड़क पर दौड़ेगी jawa 350 bike, यह है कीमत मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने उज्जैन में गाये राम भजन

Adblock Detected

Please uninstall adblocker from your browser.